चंडीगढ में बवासीर का ईलाज- आयुर्वेदिक क्षारसूत्र विशेषज्ञों के द्वारा अरोग्यम पाइल्स क्लिनिक एंड रिसर्च सेंटर, मोहाली, चंडीगढ

चंडीगढ में बवासीर का ईलाज- आयुर्वेदिक क्षारसूत्र विशेषज्ञों के द्वारा अरोग्यम पाइल्स क्लिनिक एंड रिसर्च सेंटर, मोहाली, चंडीगढ

  • Home
  • -
  • Piles News
  • -
  • चंडीगढ में बवासीर का ईलाज- आयुर्वेदिक क्षारसूत्र विशेषज्ञों के द्वारा अरोग्यम पाइल्स क्लिनिक एंड रिसर्च सेंटर, मोहाली, चंडीगढ

बवासीर, जिसे पाइल्स के नाम से भी जाना जाता है, एक ऐसी समस्या है जो न केवल शारीरिक दर्द और असुविधा का कारण बनती है, बल्कि मानसिक और सामाजिक परेशानियों को भी जन्म देती है। चंडीगढ और इसके निकटवर्ती क्षेत्रों में, अरोग्यम पाइल्स क्लिनिक एंड रिसर्च सेंटर, मोहाली आयुर्वेदिक क्षारसूत्र थेरेपी के माध्यम से इस समस्या का उपचार प्रदान कर रहा है।

आयुर्वेदिक क्षारसूत्र थेरेपी का परिचय

आयुर्वेदिक क्षारसूत्र थेरेपी एक प्राचीन भारतीय चिकित्सा प्रणाली है जिसे विशेष रूप से बवासीर, फिस्टुला और अन्य अनल विकारों के उपचार के लिए विकसित किया गया है। इस थेरेपी में, एक मेडिकेटेड धागे (क्षारसूत्र) का उपयोग करके समस्याग्रस्त क्षेत्र का उपचार किया जाता है, जो न केवल रोगी को त्वरित राहत प्रदान करता है, बल्कि रोग के पुन: प्रादुर्भाव की दर को भी कम करता है।

मोनोग्राफ पर अरोग्यम पाइल्स क्लिनिक

अरोग्यम पाइल्स क्लिनिक एंड रिसर्च सेंटर की स्थापना इस उद्देश्य के साथ की गई थी, कि उच्चतम गुणवत्ता के आयुर्वेदिक उपचार प्रदान किए जाएं। यह क्लिनिक विशेष रूप से क्षारसूत्र थेरेपी में विशेषज्ञता रखता है और बवासीर के साथ-साथ फिस्टुला के लिए भी एक आदर्श उपचार केंद्र है। यहां के आयुर्वेदिक विशेषज्ञ न केवल रोगी की स्थिति का गहराई से आकलन करते हैं, बल्कि एक व्यक्तिगत उपचार योजना भी तैयार करते हैं।

चंडीगढ में बवासीर के इलाज के लाभ

● त्वरित और कारगर उपचार में सहायता प्रदान करता है।

● उपचार प्रक्रिया में न्यूनतम दर्द होती है।

● पुन: प्रादुर्भाव की दर को कम करता है।वैयक्तिकृत उपचार योजना बनाना।

● आयुर्वेदिक थेरेपी के माध्यम से शरीर को डिटॉक्सीफाई करता है।

आयुर्वेदिक बवासीर विशेषज्ञों की भूमिका

अरोग्यम पाइल्स क्लिनिक के आयुर्वेदिक विशेषज्ञ रोगी के स्वास्थ्य का गहराई से आकलन करते हैं और एक व्यक्तिगत उपचार योजना तैयार करते हैं। इसमें डाइटीय और जीवनशैली संबंधी सुझाव भी शामिल हैं, जो कि उपचार प्रक्रिया के साथ-साथ उसके बाद भी रोगी की सहायता करते हैं।

क्षारसूत्र से बवासीर की उपचार प्रक्रिया

बवासीर के उपचार में क्षारसूत्र थेरेपी की प्रक्रिया अत्यंत कारगर मानी जाती है। यह प्रक्रिया न केवल दर्दरहित होती है, बल्कि इससे रोगी को त्वरित राहत भी मिलती है और उपचार के बाद की रिकवरी अवधि भी कम होती है। इस विधि में, एक सूत्र को रोगग्रस्त क्षेत्र में आवेष्टित किया जाता है, जो धीरे-धीरे बवासीर के मस्सों को सुखने में मदद करता है, बिना किसी प्रमुख सर्जरी की आवश्यकता के।

अरोग्यम पाइल्स क्लिनिक, मोहाली, चंडीगढ की विशिष्टताएँ

● विशिष्ट और व्यक्तिगत उपचार योजनाएँ।

● अनुभवी और विशेषज्ञ आयुर्वेदिक डॉक्टरों की टीम।

● आधुनिक और हाइजीनिक उपचार सुविधाएँ।

● रोगी की गोपनीयता और आराम को प्राथमिकता।

● व्यापक परामर्श और फॉलो-अप सेवाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen + 6 =